Jodhpur News News About 2022 Politics News

जोधपुर के उम्मेद क्लब में ‘न्यूड वीडियो’ कांड:नाबालिग की मां बोली- बेटी सदमे में, 6 रात से न सोई, न कुछ खाया

जोधपुर के प्रतिष्ठित उम्मेद क्लब में एक नाबालिग का शॉवर लेते और चेंज करने का वीडियो बनाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस संबंध में उदयमंदिर थाने में पोक्सो का मामला दर्ज हुआ है। वीडियो बनाने के आरोपी, समझौते के लिए दबाव बनाने वाले उम्मेद क्लब प्रबंधन के 4 पदाधिकारियों और एक अन्य पर केस दर्ज कराया गया है। वहीं, इस घटना से सदमे में नाबालिग ने खाना-पीना छोड़ दिया है। बस एक ही रट लगा रखी है मेरा वीडियो बना लिया, अब क्या होगा। आगे बढ़ने से पहले नीचे दिए गए पोल में हिस्सा लेकर आप अपनी राय दे सकते हैं।

Jodhpur News

Jodhpur News

पीड़िता की मां ने बताया, बेटी सदमे में है…

इस घटना के बाद मेरी बेटी 6 रात से ना तो सोई है और ना ही खाना खाया है। रातभर रोती रहती है। एक ही रट लगा रही है कि मेरा वीडियो बना लिया, अब क्या होगा। मेरी बेटी कभी स्वीमिंग के लिए नहीं जाती है। एक सप्ताह से मुझसे रिक्वेस्ट कर रही थी तो मैंने हां बोल दिया। वह पहली बार अपनी फ्रेंड्स के साथ गई थी। उसकी फ्रेंड उम्मेद क्लब की मेंबर है। मुझे क्या पता था कि वहां ये हादसा हो जाएगा। लड़का नल पर खड़ा होकर खड्‌डे में मोबाइल को फिट करके ये वीडियो बना रहा था।

बिटिया ने जब वहां शोर मचाया तो भीड़ एकत्रित हुई और आकाश चोपड़ा को पकड़ा। क्लब मैनेजमेंट ने आकाश का फोन ले लिया और हमें डिक्लेरेशन दिया कि जब तक मैं नहीं कहूंगी, तब तक उसको फोन नहीं देंगे, लड़की को जस्टिस देंगे। हमें बताया कि वीडियो डिलीट हो गया। लेकिन हम ये कैसे मान लें कि वीडियो डिलीट हुआ है, उन्होंने हमें नहीं दिखाया। वीडियो शायद किसी और को फॉरवर्ड कर दिया होगा।

दूसरे दिन ही लड़के को फोन दे दिया। अब तो मुझे यही आशंका है कि शायद वहां ये काम पहले से ही हो रहा होगा। मैं चाहती हूं पुलिस इन सब क्लब अधिकारियों के फोन चैक करे। शायद ये सब मिले हुए हैं, इसलिए मेरी बेटी के पक्ष को दरकिनार कर दिया।

Education News

Education News

दूसरे दिन क्लब का मैनेजमेंट उलटा हम पर ही सवार हो गए। बोले- क्यों तमाशा बना रहे हो। मैंने पुलिस कमिश्नर नवज्योति गोगोई और डीसीपी ईस्ट भुवनभूषण यादव को एफआईआर की कॉपी दी है। मुझे जस्टिस का इंतजार है। क्लब के मेंबर रोज शाम को इस मामले के संबंध में मीटिंग करते थे। – जैसा पीड़िता की मां ने भास्कर को बताया

पीड़िता बोली-क्लब वालों ने लौटाया आरोपी का मोबाइल
17 वर्षीय नाबालिग ने रिपोर्ट दी कि-24 अप्रैल की शाम को सहेली के साथ उम्मेद क्लब में स्वीमिंग करने गई थी। स्वीमिंग के बाद शॉवर लेने बाथरूम में गई। वहां चेंज करने लगी तो ऊपर देखा कि मोबाइल को कैमरे की एंगल से उसकी तरफ रखा है। इससे उसके नहाते का वीडियो बन रहा है। इस पर किशोरी तुरंत कपड़े सही करके बाहर आई। उसने चौपासनी रोड बख्तावरमल का बाग निवासी आकाश चौपड़ा (29) को पास वाले बाथरूम से तेजी से बाहर निकलते और मोबाइल छिपाते देखा।

किशोरी ने आकाश को रोककर फोन चैक करने की कोशिश की तो वह भागने लगा। किशोरी ने उसे पकड़ा तो वह मोबाइल से कुछ डिलीट करने की कोशिश की। लोगों ने आकाश को पकड़ लिया। किशोरी ने मम्मी को फोन कर बुलाया और उन्होंने पुलिस को बुला लिया।

क्लब सदस्य दीपक गहलोत, अर्पित मोदी, दीपक भाटी ने आकाश को बचाने की कोशिश की। उन्होंने किशोरी को कहा कि क्लब आपकी मदद करेगा। क्लब की इज्जत का सवाल है, इसलिए पुलिस को भेज दो। अगर क्लब मदद नहीं करे तो आप पुलिस में रिपोर्ट कर देना। उन्होंने एक पेपर पर राजीनामा लिखवाया और पुलिस को देकर उन्हें भेज दिया।

जान से मारने की धमकी भी
पीड़िता ने बताया कि दीपक गहलोत, अर्पित मोदी व दीपक भाटी ने आकाश चौपड़ा से मोबाइल ले लिया। मैंने मोबाइल मांगा तो उन्होंने कहा कि ये कमेटी के पास रहेगा और हम इसकी जांच कर सहयोग करेंगे। इसके बाद आकाश की पत्नी व ससुर कमलेश तातेड़ ने मुझसे व मेरी मम्मी से झगड़ा शुरू कर दिया। मुझे जान से मारने की धमकी दी। दीपक गहलोत ने मोबाइल को लिफाफे में पैक कर मम्मी के क्रॉस में हस्ताक्षर करवाए और आश्वस्त किया कि हमारी बिना सहमति मोबाइल आकाश को वापस नहीं देंगे।

समझौते के लिए दबाव
क्लब की ओर से नाबालिग पर समझौते के लिए भी दबाव बनाया गया। उसने बताया कि 25 अप्रैल को क्लब से फोन कर हमें बुलाया। वहां अध्यक्ष हंसराज बाहेती सहित दीपक मोदी, अर्पित मोदी और दीपक भाटी सहित क्लब के कुछ सदस्य थे। उन्होंने समझौता करने का दबाव बनया। बाहेती ने आकाश चौपड़ा का पक्ष लेते हुए मुझ पर आरोप लगाए, कहा- तुम क्लब की सदस्य नहीं हो। मैंने बताया कि सहेली की मेंबरशिप पर आई हूं, तो डराया कि हम उनकी मेंबरशिप खत्म कर देंगे। पेपर पर साइन करके दो। हमने साइन किए तो आश्वासन दिया कि तुम्हारे साथ जस्टिस करेंगे।

आकाश से माफीनामा लेंगे, मोबाइल की जांच करवाएंगे। आपकी सहमति के बाद उसे मोबाइल देंगे। 26 अप्रैल को मम्मी ने क्लब के हंसराज बाहेती को फोन कर पूछा तो वे क्लब में गलत एंट्री की बात करने लगे। आकाश का पक्ष लेते हुए मामला दबाने की कोशिश की। उनकी बातों से लगा कि हमारी बिना मोबाइल उसे दे दिया। जब हमने आपत्ति जताई तो क्लब का अंदरुनी मामला बता कहा कि इससे आपका कोई लेना-देना नहीं है।

 

पूरी खबर विस्तार से यहां से जाने; -नाबालिग स्टूडेंट का बाथरूम में नहाते समय बनाया वीडियो:जोधपुर के उम्मेद क्लब में फ्रेंड संग स्विमिंग करने गई थी

 

नाबालिग स्टूडेंट का बाथरूम में नहाते समय बनाया वीडियो:जोधपुर के उम्मेद क्लब में फ्रेंड संग स्विमिंग करने गई थी

Leave a Comment

error: Content is protected !!