Jodhpur News News About 2022

नाबालिग स्टूडेंट का बाथरूम में नहाते समय बनाया वीडियो:जोधपुर के उम्मेद क्लब में फ्रेंड संग स्विमिंग करने गई थी

जोधपुर के उम्मेद क्लब में 17 साल की 12 वीं क्लास की स्टूडेंट का बाथरूम में नहाते समय वीडियो बनाने का मामला सामने आया है। किशोरी फ्रेंड के साथ स्विमिंग करने के लिए गई थी। मामला 24 अप्रैल की शाम का है। शुक्रवार को किशोरी की मां ने क्लब के पदाधिकारियों के खिलाफ उदयमंदिर थाने में मामला दर्ज कराया है।

12th Student Went To Umaid Club To Swim With Friend

12th Student Went To Umaid Club To Swim With Friend

दरअसल, किशोरी शॉवर लेने गई तो कपड़े बदलते समय उसने बाथरूम की वॉल पर मोबाइल देखा, उसका नहाते हुए वीडियो बनाया जा रहा था। स्टूडेंट ने तुरंत कपड़े बदले और बाथरूम से चिल्लाते हुए भागी। आरोप है कि उसी वक्त दूसरे बाथरूम से आकाश चोपड़ा (29) नाम का व्यक्ति निकल कर जाने लगा। स्टूडेंट ने उसे पकड़ लिया और हल्ला मचाने लगी। किशोरी ने अपनी मां को भी फोन कर बुला लिया। पुलिस भी पहुंची। महिला का कहना है कि क्लब के पदाधिकारियों ने साख के चलते मामले को सुलझाने का आश्वासन दिया और पुलिस को वापस भिजवा दिया।

महिला का कहना है कि क्लब के पदाधिकारियों की ओर से की गई कार्रवाई से संतुष्ट नहीं होने पर शुक्रवार को उदयमंदिर थाने में वीडियो बनाने वाले युवक आकाश चोपड़ा व उसका साथ देने वाले कमलेश तातेड़, क्लब प्रेसिडेंट हंसराज बाहेती, कमेटी मेंबर दीपक गहलोत, अर्पित मोदी व दीपक भाटी पर पोक्सो व आईटी एक्ट में मामला दर्ज करा दिया। महिला का कहना है कि जिस दिन यह घटना घटी उस दिन क्लब के पदाधिकारियों अर्पित मोदी व दीपक भाटी मौके पर पहुंचे और कहा क्लब की कमेटी आपका सहयोग करेगी। क्लब की साख का सवाल है आप पुलिस को भेज दें। उन्होंने कहा कि क्लब कमेटी आपकी मदद न करे तो पुलिस का सहयोग ले लेना।

अर्पित मोदी व दीपक भाटी ने आकाश से मोबाइल ले लिया। उन्होंने कहा- मोबाइल कमेटी के पास रहेगा। मोबाइल को एक लिफाफे में रखकर मुझसे साइन करवाए गए। यह भी कहा गया कि आपकी अनुमति के बिना आकाश को मोबाइल नहीं लौटाया जाएगा। महिला ने बताया कि 25 अप्रैल को उन लोगों ने फोन कर क्लब बुलाया। वहां प्रेसिडेंट हंसरात बाहेती, अर्पित मोदी, दीपक गहलोत व अन्य पदाधिकारी मौजूद थे। मामले में कॉम्प्रोमाइज करने का दबाव बनाया और हम पर मेंबर नहीं होकर किसी ओर मेंबर के नाम से क्लब में एंट्री लेने का आरोप लगाया।

क्लब पदाधिकारियों ने न जांच में कोई सहयोग किया न कार्रवाई की। 26 अप्रैल को फोन पर हंसराज बाहेती से बात करने पर पता चला कि मोबाइल आकाश को लौटा दिया गया है। उसके खिलाफ किसी भी तरह की कोई कार्रवाई भी नहीं की। इस पर पुलिस में एफआईआर दर्ज करवाई है।

Leave a Comment

error: Content is protected !!